Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter 2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full  solution
Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution
COMPREHENSION 

Read the following stanzas and answer the questions that follow:


[A] Tell me not………………. spoken of the soul.
Vocabulary:

mournful…………………………….. दुःख भरे

numbers…………………………..कविताएँ

slumbers …………………………..आराम से सोता है
seem …………………………..दिखाई पड़ती है

real…………………………..वास्तविक, यथार्थ

earnest…………………………..गंभीर, सच्ची

dust…………………………..धूल

thou art…………………………..तुम हो
to dust returnest …………………………..मरकर मिट्टी में मिलना

soul ………………………….. आत्मा

हिंदी अनुवाद- मुझे दुःखभरी कविताओं में यह न कहो कि जीवन केवल एक थोथा स्वप्न है क्योंकि आराम से सोने वाली
आत्मा मृत होने के समान है अन्य चीजें वैसी नहीं हैं जैसी कि वे दिखती हैं। जीवन वास्तविक है। जीवन गंभीर है, अर्थात् जीवन का उद्देश्य जीवन के आनंदों का उपभोग करना और मृत्यु को प्राप्त होना ही नहीं है। तुम्हारा शरीर मिट्टी का बना हुआ है और मिट्टी में ही मिल जाएगा, किंतु यह बात आत्मा के लिए नहीं कही गई, है, अर्थात् आत्मा अमर है।

Q1: What does the poet not want to be told?
(कवि क्या नहीं चाहता है कि उससे कहा जाए?)

Ans: The poet does not want to be told that life is only an empty dream.
(कवि यह नहीं चाहता है कि उससे कहा जाए कि जीवन केवल एक थोथा स्वप्न है।)

Q2: Who is dead according to the poet?
(कवि के अनुसार कौन मर गया है?)

Ans: According to the poet the slumber soul is dead.
(कवि के अनुसार सोती हुई आत्मा मर गई है।)

Q3: “And things are not what they seem’Explain.
(“और चीजें वे नहीं हैं, जो वे दिखाई देती हैं’, को स्पष्ट कीजिए।)

Ans: “And things are not what they seem’In this line poet wants to say that we should get rid of the wrong
idea. We should be optimistic.

और चीजें वे नहीं हैं, जो वे दिखाई देती हैं’, इस पंक्ति में कवि कहना चाहता है कि हमें गलत विचार से छुटकारा पाना
चाहिए। हमें आशावादी बनना चाहिए।)

Q4: What is life according to the poet?
(कवि के अनुसार जीवन क्या है?)

ans: According to the poet life is not simply birth and death. Life is a reality and we should be taken it very
seriously. (कवि के अनुसार जीवन मात्र जन्म-मृत्यु नहीं है। जीवन एक वास्तविकता है और हमें इसे गंभीरता से लेने चाहिए।)

Q5: What cannot be the ultimate goal of life?
(जीवन का परम लक्ष्य क्या नहीं हो सकता?)

Ans: Death cannot be the ultimate goal of life.
(मृत्यु जीवन का परम लक्ष्य नहीं हो सकता)

Q6: What do you mean by “Dust thou art, to dust returnest”?
(“तुम मिट्टी हो और तुम्हें मिट्टी में ही मिल जाना है।” का क्या अर्थ है?)

Ans: “Dust thou art, to dust returnest” is meant that our body is made of dust and after death mixes in the dust.
( “तुम मिट्टी हो और तुम्हें मिट्टी में ही मिल जाना है।” का अर्थ है कि हमारा शरीर मिट्टी का बना है और मृत्यु के बाद
मिट्टी में ही मिल जाता है।)

Q7: What is not applicable to the soul?
(आत्मा के लिए क्या उपयुक्त नहीं है?)

Ans : “Dust thou art, to dust returtnest’ is not applicable to the soul. Soul is immortal. It neither originates
from dust (body) nor it returns (dies) to dust like our body.

(“तुम मिट्टी हो और तुम्हें मिट्टी में ही मिल जाना है।” यह कथन आत्मा के लिए उपयुक्त नहीं है। आत्मा अमर है। यह हमारे
शरीर की भाँति न तो मिट्टी से उत्पन्न होती है और न ही मिट्टी में मिलती है।)

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर

[B] Not enjoyment………………………………… to the grave.

Vocabulary:

enjoyment -………………………….. आनंद
destined end or way – जीवन का उद्देश्य
to act………………………….. कठोर परिश्रम करना

art is long – ज्ञान विस्तृत है
fleeting…………………………..बहुत तेजी से बीतते हुए

stout -………………………….. मजबूत व टिकाऊ
muffled …………………………..ढोल की आवाज कम करने के लिए उस पर ढका कपड़ा

funeral marches -………………………….. मृत्यु की तरफ कदमताल

हिंदी अनुवाद- जीवन का यह पूर्व निर्धारित लक्ष्य या उद्देश्य नहीं है कि हम आनंद उठाएँ और कष्ट सहन करें तथा मर जाए। जीवन का उद्देश्य सतत् परिश्रम करते रहना है। हमें सतत् प्रगति करते रहना चाहिए। ज्ञान का क्षेत्र अनंत है, लेकिन समय तेजी से व्यतीत होता जा रहा है। हम मजबूत और टिकाऊ व्यक्तित्व के धनी मानव हैं। इसके बावजूद हम उस ढोल की धीमी आवाज के समान, जिसको कपड़े में लपेटा गया है, कदमताल करते हुए मृत्यु का वरन्क रने के लिए धीरे-धीरे बढ़ते जा रहे हैं।

Q1: Explain “Not enjoyment and not sorrow, Is our destined end or way.”
(“न ही आनंद और न ही दुःख, हमारा नियत लक्ष्य या उद्देश्य है” स्पष्ट कीजिए।)

Ans: “Not enjoyment and not sorrow, Is our distined end or way,” in these lines the poet wants to say that the
purpose of our life is not only to enjoy or to be sad.

(“न ही आनंद और न ही दुःख, हमारा नियत लक्ष्य या उद्देश्य है” इन पंक्तियों में कवि कहना चाहता है कि हमारे जीवन का
उद्देश्य केवल आनंद मनाना या दुःखी होना नहीं है।)

Q2: What should not be our way of living?
(हमारे जीवन जीने का तरीका क्या नहीं होना चाहिए?)

Ans: Our way of living should not be to enjoy the pleasures of life and neither to suffer its sorrow.
(हमारे जीवन जीने का तरीका जीवन के आमोद-प्रमोद का आनंद लेना तथा उसके कष्ट सहना नहीं होना चाहिए।)

Q3: How should we act everyday?
(हमें प्रतिदिन कैसे कार्य करने चाहिए?)

Ans: We should go ahead with our progress everyday.
(हमें प्रतिदिन प्रगति करते हुए आगे बढ़ना चाहिए।)

Q4: How can our lives become better everyday?
(हमारा जीवन प्रतिदिन बेहतर कैसे हो सकता है?)

Ans: Ifwe make continuous progress, our lives can become better everday.
(यदि हम सतत् प्रगतिशील बनें, हमारा जीवन प्रतिदिन बेहतर हो सकता है।)

Q5: Explain “Art is long, and time is fleeting”.
(“ज्ञान विस्तृत है और समय बीतता जा रहा है’ को स्पष्ट कीजिए।)

Ans: “Art is long, and time is fleeting” means that the field of knowledge is very wide while life is very short.
(“ज्ञान विस्तृत है और समय बीतता जा रहा है’ का अर्थ है कि ज्ञान का क्षेत्र बहुत विस्तृत है जबकि जीवन बहुत छोटा है।)

Q6: When does our heart beat like muffled drums?
(हमारा हृदय ढके हुए ढोल के समान कब बजता है?)

Ans: Our heart beats like muffled drums when we marches forward to death.
(हमारा हृदय ढके हुए ढोल के समान बजता है, जब हम मृत्यु की ओर कदमताल करते हुए आगे बढ़ते हैं।)

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

[C] In the world’s………………………………………God o’er head!

Vocabulary:

broad………………………………….विशाल
field of battle ……………………………..युद्ध स्थल

bivouac …………………………….. अस्थायी पड़ाव
dumb……………………………..गूंगा

strife…………………………….. संघर्ष, कठिनाई
trust……………………………..विश्वास करना

dead past ……………………………..व्यर्थ गँवाया हुआ समय

living present……………………………..मौजूदा समय

o’er head……………………………..सिर के ऊपर

हिंदी अनुवाद- जीवन अस्थायी तथा क्षणिक है। जीवन संघर्षों तथा कठिनाइयों से भरा पड़ा है। अतः हमें इससे पीछे नहीं हटना चाहिए, परंतु जीवनरूपी युद्ध में अपने कर्तव्य का निर्वाह करना चाहिए। मनुष्य को संसार में गूंगे तथा हाँके जाने वाले पशुओं की भाँति नहीं रहना चाहिए और उसे अपनी परिस्थितियों से विचलित नहीं होना चाहिए। जीवन और उसकी कठिनाइयों का सामना साहस तथा उत्साह से करना चाहिए। भविष्य कितना ही सुनहरा क्यों न हो उस पर विश्वास मत करो तथा बीते हुए समय को दफन हो जाने दो। उसकी स्मृतियाँ शेष मत रखो। कर्म करो-वर्तमान में कर्म करो। अपने मन के अंदर विश्वास रखो तथा ऊपर शून्य में ईश्वर पर यकीन करो।

Q1: Why is the world called broad field of battle?
(संसार को विशाल युद्ध स्थल क्यों कहा गया है?)

Ans: The world is called broad field of battle because life is full of struggles and difficulties.
(संसार को विशाल युद्ध स्थल कहा गया है क्योंकि जीवन संघर्षों तथा कठिनाइयों से भरा हुआ है।)

Q2: What is meant by “bivouac of life”?
(“जीवन के अस्थायी पड़ाव” से क्या तात्पर्य है?)

Ans: “Bivouac of life” is meant that the life is temporary and short.
(“जीवन के अस्थायी पड़ाव’ से तात्पर्य है कि जीवन अस्थायी तथा लघु है।)

Q3: Why should we notlive like ‘dumb driven cattle’?
(हमें गूंगे हाँके जाने वाले पशुओं के समान क्यों नहीं जीना चाहिए?)

Ans: We should not live like ‘dumb driven cattles’ because they cannot face struggles and difficulties. They
depend on their master. They have no certain aim in their life.

(हमें गूंगे हाँके जाने वाले पशुओं के समान नहीं जीना चाहिए क्योंकि वे संघर्षों तथा कठिनाइयों का सामना करने में असमर्थ हैं।
वे अपने मालिक पर निर्भर रहते हैं। उनके जीवन का कोई निश्चित उद्देश्य नहीं होता।)

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Q4: How are we advised to face difficulties of life?
(हमें जीवन की कठिनाइयों का सामना किस प्रकार करने की सलाह दी गई है?)

Ans: We are advised to face difficulties with courage and enthusiasm.
(हमें जीवन की कठिनाइयों का सामना साहस तथा उत्साह से करने की सलाह दी गई है।)

Q5: Why should we not trust the future?
(हमें भविष्य पर विश्वास क्यों नहीं करना चाहिए?)

Ans: The future is unknown to us so we should not trust it.
(भविष्य हमारे लिए अज्ञात है इसलिए हमें उस पर विश्वास नहीं करना चाहिए।)

Q6: Explain “Let the dead past bury its dead”!
(“बीते हुए कल को दफन कर दो” को स्पष्ट कीजिए।)

Ans: “Let the dead past bury its dead” means do not remember lifeless time that has gone by.
(“बीते हुए कल को दफन कर दो’ का अर्थ है- व्यर्थ गए हुए समय को याद मत करो जो कि गया है।)

Q7: How are we told to act?
(हमें कैसे कार्य करने के लिए कहा गया है?) Ans: We are told to act in existing time.
(हमें मौजूद समय में कार्य करने के लिए कहा गया है।)

Q8: Explain “Heart within, and God o’ver head”!
(“अंदर हृदय पर तथा ऊपर ईश्वर पर” की व्याख्या कीजिए।)

Ans: “Heart within, and God o’er head’ means that we should trust in our heart and God.
(“अंदर हृदय पर तथा ऊपर ईश्वर पर” से तात्पर्य है कि हमें अपने मन पर तथा ईश्वर पर विश्वास करना चाहिए।)

[D] Lives of great………………………………and to wait.

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Vocabulary:

sublime…………….. उत्तम, महान
departing ……………………..मृत्यु के पश्चात्

sailing -…………………………….. समुद्र में यात्रा करना, खेना

solemn……………………………..गंभीर और प्रवाहपूर्ण

main – ……………………………..गहरा समुद्र
life’s solemn main -…………………………….. जीवनरूपी समुद्र

forlorn……………………………..निराश, लाचार

shipwrecked -…………………………….. टूटे हुए जलयान के समान छिन्न छिन्न जीवन-नैया

take heart……………………………..उत्साह बटोरना

be up and doing -…………………………….. लंगर बाँधकर लड़ने के लिए तैयार हो जाना

with a heart …………………………….. दृढ़ता पूर्वक

still achieving still pursuing – जीवन का लक्ष्य अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए कठोर परिश्रम करना है

learn to labour and to wait – नवयुवकों को धैर्यवान तथा घोर परिश्रमी होना चाहिए। उन्हें तात्कालिक पारिश्रमिक की चिंता नहीं करनी चाहिए।

footprints on the sands of time – अच्छे कार्यों का लेखा-जोखा

हिंदी अनुवाद- महापुरुषों का जीवन हमें उत्साहित करता है कि हम भी उनका अनुसरण करते हुए स्वयं को दिव्य पथ का
अनुगामी बनाएँ। ऐसा करके हम मृत्यु के पश्चात् लोगों के लिए प्रेरणा बन जाएँगे और युगों-युगों तक याद किए जाएंगे। हमारे पद-चिकृत संभवत: हमारे पश्चात् जीवन नैया को खेते-खेते निराश हो चुके हमारे किसी भाई को भविष्य में आप्लावित करने तथा उत्साह से भर देने में सार्थक भूमिका निभाएँगे। आओ हम लंगर बाँधकर हर परिस्थिति का दृढ़तापूर्वक सामना करने के लिए खड़े हो जाएँ। जीवन का लक्ष्य कठोर परिश्रम तथा लक्ष्य की प्राप्ति करना है। नवयुवकों को धैर्यवान् तथा घोर परिश्रमी होना चाहिए। उन्हें तात्कालिक पारिश्रमिक की चिंता नहीं करनी चाहिए।

Q1: What do lives of great men remind us?
(महापुरुषों का जीवन हमें क्या ध्यान दिलाता है?)

Ans: The lives of great men remind us that we can make our lives sublime.
(महापुरुषों का जीवन हमें ध्यान दिलाता है कि हम अपने जीवन को उत्तम अर्थात् महान बना सकते हैं।)

Q2: What can we leave behind after death?
(मृत्यु के बाद हम अपने पीछे क्या छोड़ सकते हैं?)

Ans: After death we can leave behind us our footprints.
(मृत्यु के बाद हम अपने पीछे अपने पद चिह्न छोड़ सकते हैं।)

Q3: How can we make our lives great?
(हम अपने जीवन को महान कैसे बना सकते हैं?) Ans: By following great men we can make our lives great.
(महापुरुषों का अनुसरण करके हम अपने जीवन को महान बना सकते हैं।)

Q4: How can we help the people who are ruined and unhappy?
(हम निराश तथा दु:खी लोगों की सहायता कैसे कर सकते हैं?)

Ans: Our footprints can fill the heart of ruined and unhappy people with enthusiasm.
(हमारे पद चिह्न निराश तथा दु:खी लोगों के हृदय को उत्साह से भर सकते हैं।)

Q5: How can we setexample before others?
(हम दूसरों के सामने उदाहरण कैसे प्रस्तुत कर सकते हैं?)

Ans: Our records of noble, deeds can set example before others.

(हमारे अच्छे कार्यों का लेखा-जोखा दूसरों के सामने उदाहरण प्रस्तुत कर सकता है।)

Q6: What does the poet advise us in the last four lines?
(कवि अंतिम चार पंक्तियों में हमें क्या सलाह देता है?)

Ans: The poet advises us that we should continue working with courage without thinking about its result.
(कवि हमें सलाह देता है कि हमें परिणाम के विषय में सोचे बिना साहस के साथ काम करते रहना चाहिए।)

Q7: What are the two things we ought to learn?
(वे क्या दो चीजें हैं जिन्हें हमको सीखना चाहिए?)

Ans: We ought to learn that we should be patient and hard-working.

(हमें धैर्यवान तथा कठिन परिश्रमी होना सीखना चाहिए।)


ANSWER THESE QUESTIONS: Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Q1: Give the central idea of the poem.
(कविता का मुख्य भाव दीजिए।)

Ans: See central idea of the poem on click
(कविता का मुख्य भाव ऊपर देखिए।)

Q2: What should be our aim in life?
(हमारे जीवन का क्या उद्देश्य होना चाहिए?)

Ans: The aim of our life should be to reach our definite destination for which we have to work hard. We
should make continuous progress in our life.

( हमारे जीवन का लक्ष्य होना चाहिए कि हम अपने निश्चित एवं निर्धारित गन्तव्य तक पहुँच जाएँ, जिसके लिए हमें कठोर परिश्रम करना चाहिए। हमें जीवन में सतत् प्रगति करते रहना चाहिए।)

Q3: What is life according to the poet?
(कवि के अनुसार जीवन क्या है?)

Ans: According to the poet, life is like battle-field because it is full of struggles and difficulties.
(कवि के अनुसार जीवन युद्ध स्थल के समान है क्योंकि यह संघर्षों और कठिनाइयों से भरा हुआ है।)

Q4: What is not the aim of life according to the poet?
(कवि के अनुसार जीवन का लक्ष्य क्या नहीं है?)

Ans: According to the poet only death is not the aim in life.
(कवि के अनुसार मात्र मृत्यु ही जीवन का लक्ष्य नहीं है।)

Q5: How can we make our lives an example for others?
(हम अपने जीवन को दूसरों के लिए एक उदाहरण कैसे बना सकते हैं?)

Ans: By following noble men we can make our life an example for others.
(महान लोगों का अनुसरण करके हम अपने जीवन को दूसरों के लिए एक उदाहरण बना सकते हैं।)

Q6: What is advised to us through the poem?
(कविता के द्वारा हमें क्या सलाह दी गई है?)

Ans: Through the poem we are advised that life a reality and we should be taken it quite seriously. Life is full
of struggle and difficulties and is like a battlefield. We should face it bravely. To achieve our goals in life we should be patient and hard working

( कविता के माध्यम से हमें सलाह दी गई है कि जीवन एक वास्तविकता है और इसे हमें गंभीरता से लेना चाहिए। जीवन संघर्षों और कठिनाइयों से भरा हुआ है और एक युद्ध क्षेत्र के समान है। हमें इसका मुकाबला वीरता से करना चाहिए। अपने जीवन के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए हमें धैर्यशाली और परिश्रमी होना चाहिए।)

आप पढ़ रहे है Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution

1 thought on “Up Board class 10 English Poetry chapter-2 The Psalm of Life हिन्दी अनुवाद तथा प्रश्न उत्तर full solution”

  1. Pingback: Up Board Exam 2021: अब उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षार्थियों के रोल नंबर 7 की बजाय 9 अंकों के होंगे जानिए इन में क्

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top