Up board class 10 social science solution chapter 1

71 / 100

Up board class 10 social science solution chapter 1 पुनर्जागरण

प्रश्न -1 पुनर्जागरण से आप क्या समझते हैं यूरोप में पुनर्जागरण के प्रमुख कारण क्या थे।

अथवा

पुनर्जागरण का क्या अर्थ है पुनर्जागरण के प्रमुख कारण बताइए ।

उत्तर- पुनर्जागरण:-

यूरोप के निवासियों ने मध्यकाल में निर्जीव और मृतप्राय यूनानी एवं रोमन सभ्यता को दोबारा से जीवित करने के लिए जो प्रयास किए उन्हें ही पुनर्जागरण कहा जाता है पुनर्जागरण शब्द का प्रयोग ऐसे सभी परिवर्तनों के लिए किया जाता है जो मध्य युग के अंत में अथवा आधुनिक युग के प्रारंभ में हुए इससे अज्ञानता और अंधविश्वास में जकड़े हुए मनुष्यों को छुटकारा मिला और जीवन एक नए युग की तरफ मुड़ गया जिससे एक नई चेतना का उदय हुआ इसलिए पुनर्जागरण को मध्यकालीन पुराने विचारों के विरुद्ध एक सांस्कृतिक एवं अहिंसक क्रांति की संज्ञा दी जाती है पुनर्जागरण के कारण यूरोप में राज्य धर्म न्याय राजनीति साहित्य और दर्शन बहुत ही व्यापक परिवर्तन हुए हैं ।

यूरोप में पुनर्जागरण के कारण

यूरोप में पुनर्जागरण के निम्नलिखित प्रमुख कारण उत्तरदाई थे

धर्म युद्ध नए ज्ञान का मार्ग दिखाने में मध्यकाल में लड़े गए धर्म योद्धाओं ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई यह धर्म युद्ध तो रुको उसके यरूशलम को स्वतंत्र कराने के लिए ईसाईयों द्वारा लड़े गए धर्मों के कारण यूरोप में रहने वाले व्यक्तियों में अन्य देशों की सभ्यताएं और अन्य देशों की संस्कृतियों समाहित हो गई इस प्रकार यूरोप के व्यक्तियों में नए विचारों का उदय हुआ

इस्लाम धर्म का प्रचार धर्म युद्ध के कारण यूरोप के लोग मध्य पूर्व की इस्लाम सभ्यता के संपर्क में आए इससे यूरोप में रहने वाले व्यक्तियों को अपने राजनीतिक एवं धार्मिक ढांचे की जो कमियां थी उनके बारे में जानकारी हुई और उन्होंने अपने आप में समय के अनुकूल परिवर्तन किया और अपनी प्राचीन सभ्यता और संस्कृति को एक नया मोड़ देने का प्रयास किया

कुस्तुनतुनिया पर तुर्कों का अधिकार संत 1453 ईस्वी में ट्रकों ने कुस्तुनतुनिया पर अधिकार कर लिया इससे यूरोप में पुनर्जागरण को बढ़ा बल मिला तो लोगों के अत्याचार से बहुत भयभीत हो कर के बहुत सारे यूनानी ईसाईयों ने यूरोप के विभिन्न भागों में छुपकर शरण ली इन लोगों ने यूरोप में जगह-जगह यूनानी सभ्यता का प्रचार किया जिससे लोगों पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ा इस प्रकार यूरोप में पुनर्जागरण की प्रक्रिया प्रारंभ हुई

नवीन धार्मिक मान्यताओं का विकास यूरोप के लोगों में यह विश्वास उत्पन्न होने लगा था कि स्वर्ग और नरक केवल रूढ़िवादी धर्म की कल्पनाएं मात्र हैं जीवन का वास्तविक सुख तो परिश्रम से और स्वावलंबन से प्राप्त होता है स्वर्ग ऊपर कहीं नहीं है स्वर्ग इसी धरती पर है सच्चा सुख ही स्वर्ग है इस मानवतावादी विचारों के द्वारा यूरोप के निवासियों को अंधविश्वासों से निकाला गया और नए नए वैज्ञानिक और तार्किक दृष्टिकोण यूरोप वासियों द्वारा अपनाए जाने लगे

भौगोलिक खोजें पुर्तगाल फ्रांस स्पेन इंग्लैंड इटली पोलैंड आदि देशों के नाविकों ने नए नए समुद्री मार्गों को खोजा और नई-नई देशों की भी खोज की यूरोप के लोगों ने इन देशों में अपना विस्तार किया जिससे यूरोप में साम्राज्यवाद के युग का आरंभ हुआ इन खोजों के कारण ही यूरोप बासी अनेक उन्नत और प्राचीन सभ्यताओं के संपर्क में आए इस कारण भी यूरोप में नए विचारों का उदय हुआ तो भौगोलिक खोजें भी पुनर्जागरण का एक महत्वपूर्ण जरिया साबित हुई

छापेखाने का आविष्कार छापेखाने का आविष्कार से पुस्तकों की संख्या में बहुत अधिक वृद्धि हुई जिससे आम जनता के लिए शिक्षा के द्वार खुल गए शिक्षा के द्वारा लोगों के ज्ञान में वृद्धि हुई उनके तर्क शक्ति में वृद्धि हुई तथा एक विचार दूसरी जगह पहुंचने मैं छापेखाने ने बहुत भूमिका निभाई इस कारण भी यूरोप में नए विचारों का उदय हुआ

आविष्कारों का प्रभाव यूरोप में विभिन्न वैज्ञानिकों ने नए नए अविष्कार की गैलीलियो और न्यूटन जैसे वैज्ञानिकों ने बहुत महान आविष्कार किए जिसके कारण विज्ञान के क्षेत्र में क्रांति आई विभिन्न आविष्कारक ओं के कारण प्राचीन और निरर्थक मान्यताओं का लोप होने लगा और लोगों में नया और तार्किक वैज्ञानिक दृष्टिकोण जागृत होने लगा

भाषा और साहित्य के क्षेत्र में परिवर्तन उस समय लैटिन भाषा सारे यूरोप में बोली और लिखी जाती थी इंग्लैंड के प्रसिद्ध साहित्यकार शासन ने दा कैंटरबरी टेल्स पुस्तक की रचना करके नए अंग्रेजी साहित्य का मार्ग खोल दिया इटली के महान कवि दानते ने इटली भाषा की प्रसिद्ध ग्रंथ डिवाइन कॉमेडी की रचना की इटली के एक निवासी मैक्यावली ने राज्य की नई कल्पना प्रस्तुत की तथा जर्मन निवासी मार्टिन लूथर ने चर्च के विरुद्ध कई ग्रंथ लिखे इन विभिन्न कवियों तथा लेखकों की रचनाओं ने यूरोप में पुनर्जागरण को बहुत बल दिया

नए नगरों की स्थापना यूरोप के विभिन्न देशों में नए-नए नगर स्थापित होने लगी जो आर्थिक और व्यापारिक सिटी से बहुत संपन्न थे जिस कारण इन नगरों में विज्ञान शिक्षा तथा कला का विकास हुआ इसके परिणाम स्वरूप व्यक्ति पुराने शहरों से नए शहरों की ओर पलायन करने लगे और प्राचीन संस्कृति और सभ्यता का अंत होने लगा और लोगों में नए ज्ञान विज्ञान और नवीन चेतना का उदय होने लगा

कलाओं का प्रभाव मूर्ति कला संगीत कला चित्रकला और भवन निर्माण कला में बहुत ज्यादा परिवर्तन हुए इस युग में प्रमुख कलाकारों में राफेल माइकल एंजेलो तथा लिओनार्दो दा विंची अपनी कृतियों द्वारा यूरोप के लोगों को अत्यधिक प्रभावित करने लगे इन सब कलाओं के कारण यूरोप में सभी लोगों में एक नई क्रांति का संचार होगा इन सब कारणों से यूरोप में पुनर्जागरण को बल मिला ।

आप पढ़ रहे है – Up board class 10 social science solution chapter 1

प्रश्न 2- पुनर्जागरण के क्या परिणाम हुए विस्तार से लिखिए

पुनर्जागरण से प्राचीन प्रेरणा पर आधारित एक नया प्रयोग शुरू हुआ इस कथन की स्पष्ट व्याख्या कीजिए

पुनर्जागरण काल में आर्थिक दशा और व्यापार में क्या क्या प्रगति हुई इन सब पर प्रकाश डालिए

पुनर्जागरण के फलस्वरूप मानव जीवन पर और उसके क्रियाकलापों पर क्या-क्या परिवर्तन हुए विस्तार से बताइए

उत्तर पुनर्जागरण के द्वारा प्राचीन मान्यताओं और प्राचीन संस्कृत में आमूलचूल परिवर्तन हुआ पुनर्जागरण काल का एक प्रमुख परिणाम मध्यम वर्ग का उदय और इसकी शक्ति में हुई वृद्धि थी पुनर्जागरण के कारण तत्कालीन यूरोप की आर्थिक दशा व्यापार सामाजिक जीवन धर्म राजनीति में व्यापक परिवर्तन हुए जो निम्न प्रकार हैं

Www.upboardinfo.in

पुनर्जागरण के कारण तत्कालीन यूरोप की आर्थिक दशा व्यापार सामाजिक जीवन धर्म राजनीति में व्यापक परिवर्तन हुए जो निम्न प्रकार हैं

आर्थिक दशा तथा विदेशी व्यापार में परिवर्तन पुनर्जागरण के कारण यूरोपीय नागरिकों ने अनेक नए देशों की तथा समुद्री मार्गों की खोज की समुद्री मार्गों का प्रयोग करने से विदेशी व्यापार में बहुत अधिक वृद्धि हुई यूरोप के राष्ट्रों ने खोजे गए नए नए देशों में अपने उपनिवेश बनाए और उन्हें अपना व्यापार का केंद्र बनाया उपनिवेश के कारण साम्राज्यवाद और पूंजीवाद का जन्म हुआ तथा पूंजीवाद के कारण शोषण तथा वर्ग संघर्ष का उदय हुआ

सामाजिक जीवन में परिवर्तन पुनर्जागरण के कारण यूरोप के जीवन में व्यापक परिवर्तन हुआ और इन सब कारणों से यूरोप के लोगों के जीवन में नई संस्कृति का विस्तार हुआ अंधविश्वासों का अंत हुआ नए वैज्ञानिक दृष्टिकोण का उदय हुआ सामंतवादी पद्धति का अंत हो गया यूरोप के समाज में मध्यकालीन युग से निकलकर आधुनिक युग में प्रवेश किया मानवतावाद के जन्म होने के कारण समाज में नए मध्यम वर्ग का उदय हुआ शिक्षा के कारण समाज में नई चेतना और जागृति आई और लोग प्राचीन रोड भाजपा को छोड़कर यथार्थवाद और भौतिकवाद की ओर झुकने लगे इन सब के कारण लोगों के मन में जकड़ी हुई प्राचीन और पुरातन रूढ़िवादिता समाप्त हुई तथा एक नए जीवन का संचार हुआ

राजनीतिक परिवर्तन धर्म युद्ध में हार के कारण यूरोप में निरंकुश राजाओं को अपनी परंपरागत युद्ध करने की शैली को बदलना पड़ा इसके कारण यूरोप में मध्यकालीन सामंतवादी धीरे-धीरे समाप्त होने लगा राज्यों में राष्ट्रीय भावना अपने राज्य केंद्रीय शक्ति के रूप में उभरने लगी कुछ समय बाद प्रजातांत्रिक शासन प्रणाली का जन्म हुआ और राज्य शासन धीमे-धीमे समाप्त होने लगे

धार्मिक परिवर्तन पुनर्जागरण के समय यूरोप में धार्मिक जीवन से जुड़े हुए कई सारे परिवर्तन हुए इस्लाम धर्म के बढ़ते प्रभाव से अपने धर्म तथा समाज की रक्षा के लिए यूरोप का सारा का सारा समाज एकजुट हो गया और उसने मिलकर इस्लाम के खिलाफ आवाज उठाई यूरोप ने अपने सांस्कृतिक पुनरुत्थान के द्वारा अपने धर्म और समाज की रक्षा की कैथोलिक धर्म की बुराइयों के विरोध में प्रोटेस्टेंट धर्म का अभ्युदय हुआ यूरोप के ज्यादातर देशों ने प्रोस्टेट 10 धर्म को अपनाना शुरू कर दिया इस सब कार्य में मार्टिन लूथर जॉन काल्विन जैसे कई समाज सुधारकों ने धर्म को एक सूत्र में बांधने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई

भाषा और साहित्य में परिवर्तन पुनर्जागरण के समय पर छापेखाने का आविष्कार हुआ तो 1476 ईस्वी में इंग्लैंड में छापाखाना खोलने के साथ ही कई सारे छापेखाने खोले गए इन सब से पुस्तकों की छपाई में अप्रत्याशित तेजी होने लगी इसके कारण सामान्य जनता के लिए शिक्षा के द्वार खुल गए पुस्तकें हर व्यक्ति तक पहुंचने लगी पुनर्जागरण काल में अंग्रेजी लैट्रिन ट्रेन आज भाषाओं का बहुत विकास हुआ इटली जर्मनी इंग्लैंड फ्रांस हालैंड आदेशों के कवियों तथा लेखकों ने अनेक प्रसिद्ध रचनाओं के माध्यम से लोगों को जागृत किया विलियम शेक्सपियर ने मैकबेथ हैमलेट मर्चेंट ऑफ वेनिस रोमियो जूलियट तथा। ईरेस्मस ने इन द प्राइस ऑफ पॉली की रचना की।

कला का विकास इटली का पुनर्जागरण मूल रूप से कला के क्षेत्र में हुआ वहां पर चित्रकारी शिल्प एवं स्थापत्य कला मैं बहुत उन्नति हुई पुनर्जागरण काल में चित्रकारों ने विषयों का चुनाव सीधे जीवन से जुड़े हुए विषयों को प्लास्टर और लकड़ी के पैनल के स्थान पर कैनवास का उपयोग शुरू किया लियोनार्दो डा विंची माइकल एंजेलो राफेल और किसी आम के चित्र आज तक सर्वोत्तम माने जाते हैं

पुरानी परंपरा और एक नए जीवन का प्रयोग शुरू हुआ जिसमें सामंजस्य एवं मौलिकता थी मनुष्य के सामाजिक मूल्य की प्रतिष्ठा शुरू हुई वास्तव में देखा जाए तो पुनर्जागरण काल था जिसमें प्राचीन और आधुनिक दोनों की विशेषताएं मौजूद थी धीमे-धीमे प्राचीन काल की विशेषताएं समाप्त हो रही थी और आधुनिक युग की विशेषताएं बड़ों के कारण अमेरिका के रूप में नई दुनिया का पता चला था जो टूट गया कम होने लगी और मनुष्य धार्मिक जंजीरों से मुक्त होने लगे वैज्ञानिक जीवन दर्शन ने मनुष्य को प्रगति के पथ पर बढ़ने के लिए प्रेरित किया इस प्रकार मानव के दृष्टिकोण में जो बदलाव आया वह राजनीति से बाजार तक और बाजार से हर व्यक्ति तक हर व्यक्ति के जीवन में हर जगह दिखाई देने लगा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version