UP Board hindi model paper 2021: मॉडल पेपर यूपी बोर्ड हिन्दी कक्षा 10

UP Board hindi model paper 2021, मॉडल पेपर यूपी बोर्ड हिन्दी कक्षा 10

मॉडल पेपर यूपी बोर्ड   हिन्दी कक्षा 10 

यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए नई तारीख नई स्कीम आ चुकी है , परीक्षा 8 मई से होगी | उत्तर प्रदेश में 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा अगले महीने से शुरू हो रही हैं विद्यार्थी ज्यादा से ज्यादा समय पढ़ने में गुजार रहे हैं | परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं |

अक्सर विद्यार्थी हिंदी विषय को आसान समझते हैं और उसमें नंबर नहीं ला पाते हैं विद्यार्थी अपना पूरा समय गणित अंग्रेजी और विज्ञान जैसे विषयों में लगा देते हैं जिससे उन्हें उन विषयों में तो अच्छे नंबर मिल जाते हैं लेकिन हिंदी और सामाजिक विज्ञान जैसे विषयों में कम नंबर मिल पाते हैं जिससे रिजल्ट कमजोर हो जाता है | लेकिन अब जरूरी है कि छात्र हिंदी की तैयारी भी अच्छे से करें और रिवीजन के साथ-साथ हिंदी का मॉडल पेपर भी हल करना शुरू कर दें जिससे छात्र को यह पता चल पाएगा कि उसकी हिंदी की तैयारी किस प्रकार की है | और उसे अपनी तैयारी बेहतर करने की प्रेरणा मिलेगी |

आज यहां पर हिंदी विषय का मॉडल पेपर ( सैंपल पेपर) आपके लिए दिया जा रहा है यह सैंपल पेपर अमर उजाला की तरफ से उनके समाचार पत्र में दिया गया था यूपी बोर्ड परीक्षा दसवीं के लिए हिंदी बहुत कठिन विषय होता है छात्रों के कम नंबर आ पा ते हैं इसलिए हिंदी विषय की तैयारी बच्चों को अच्छे से करनी चाहिए पिछली साल यूपी बोर्ड में लगभग 7.7 स्टूडेंट हिंदी विषय में फेल हो गए थे |

कैसे बना सकते हैं हिंदी विषय को अच्छा यूपी बोर्ड कक्षा 10 की परीक्षा में हिंदी विषय के परीक्षार्थी को जरूरत है अपने कांसेप्ट क्लियर करने की हिंदी विषय में बेहतर अंक प्राप्त करने के लिए छात्रों को निम्न बिंदुओं पर गौर करनी होगी |

परीक्षा देते समय निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए मॉडल पेपर यूपी बोर्ड हिन्दी कक्षा 10

  • हिंदी की परीक्षा देते समय भाषा प्रभावशाली होनी चाहिए
  • साथ ही लॉन्ग आंसर लिखते समय महत्वपूर्ण विषयों को हाईलाइट करना ना भूले उन्हें उपशीर्षक या हेडिंग के रूप में भी लिख सकते हैं |
  • अपने उत्तर में भाषा की व्याकरण शुद्धता पर बहुत ध्यान रखें |
  • जरूरत पड़े तो हर चीज में उदाहरण देने का प्रयास करें और उन्हें हाईलाइट कर दें जिससे आपको अच्छे अंक मिल सकते हैं |
  • तथा हिंदी की परीक्षा देते समय परीक्षार्थी बेफिजूल की बातें ना लिखें |

विद्यार्थियों के लिए हिंदी का मॉडल पेपर दे रहे हैं यहां आपको सॉफ्ट कॉपी मिलेगी जिसे आप अपने लिए पढ़ करके उसे हल करने का प्रयास कीजिएगा |

इस तरह से समझें पेपर का पैटर्न

  • हिंदी गद्य और पद्य के विकास से 5-5 अंकों के दो लघु उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे
  • गद्य पढ़कर उत्तर लिखना होगा और पद्य की संदर्भ सहित व्याख्या करनी होगी जिसके लिए 6-6 अंक निर्धारित किए गए हैं
  • संस्कृत में संदर्भ सहित हिंदी में अनुवाद करने के लिए आएगा जिसके लिए 4 अंक निर्धारित किए गए हैं
  • जबकि इस वर्ष निर्धारित किए गए सिलेबस के पाठ से एक लेखक और एक कवि का जीवन परिचय व एक एक रचना लिखने के लिए आएगी जिसके लिए आपको 6 अंक मिलेंगे
  • संस्कृत भाग से 1 श्लोक लिखना होगा जो दिए गए प्रश्न पत्र में ना आया हो उसके लिए 2 अंक दिए जाएंगे | इसके लिए आप अपनी पाठ्य पुस्तक से कम से कम 3 श्लोक याद कर ले
  • जबकि संस्कृत भाग से निर्धारित प्रश्नों के उत्तर देने के लिए 2 अंक दिए जाएंगे
  • रस छंद अलंकार 2-2 अंक के होंगे इसके लिए 6 अंक निर्धारित हैं
  • हिंदी व्याकरण शब्दों के लिए 11 अंक मिलेंगे
  • संस्कृत व्याकरण में अनुवाद करना होगा जिसके लिए 8 अंक दिए जाएंगे |तथा खंड काव्य में से एक प्रश्न का उत्तर देने के लिए 3 अंक दिए जाएंगे |
  • इस प्रकार 70 अंक आपके परीक्षक द्वारा दिए जाएंगे तथा 30 अंक विद्यालय द्वारा आंतरिक मूल्यांकन के लिए जाएंगे
  • UP Board hindi model paper 2021, मॉडल पेपर यूपी बोर्ड हिन्दी कक्षा 10
UP Board hindi model paper 2021
UP Board hindi model paper 2021
मॉडल पेपर यूपी बोर्ड   हिन्दी कक्षा 10 

कक्षा 10 विषय हिंदी समय :- 3 घंटे 15 मिनट

प्रश्न -1 (क) निम्नलिखित कथनों में से कोई एक कथन सही है उसे पहचान कर लिखिए

(i ) इतिवृत्त आत्मकथा प्रगतिवादी युग की विशेषता है

(ii ) स्कंद गुप्त प्रेमचंद जी का नाटक है

(iii ) शोषित वर्ग की पीड़ा का चित्रण प्रगतिवादी युग की विशेषता है

(iv ) गोदान तुलसीदास जी की रचना है

मॉडल पेपर यूपी बोर्ड हिन्दी कक्षा 10

(ख) निम्न कृतियों में से किसी एक कृति के लेखक का नाम लिखिए

1- प्रबंध पारिजात 2- भारतीय शिक्षा 3- चिंतामणि 4- त्यागपत्र

(ग) 1- किसी एक एकांकी नाटक के लेखक का नाम लिखिए

2-जयशंकर प्रसाद के किसी एक नाटक का नाम लिखिए

3- किसी एक संस्मरण लेखक का नाम लिखिए

प्रश्न -2 छायावादी युग की दो प्रमुख विशेषताओं को लिखिए

शुक्लोत्तर युग के दो नाटक कारों के नाम लिखिए

आंगन के पार द्वार के रचयिता का नाम लिखिए

प्रश्न 3 (i) निम्नलिखित गद्यांश में से किसी एक के नीचे दिए गए प्रश्नों के उत्तर दीजिए

आज विज्ञान मनुष्य के हाथों में अद्भुत और अतुल शक्ति दे रहा है उसका उपयोग एक व्यक्ति और समूह के गिराने में होता ही रहेगा इसके लिए हमें उस भावना को जागृत रखना है और उसे जागृत रखने के लिए कुछ ऐसे सपनों को भी हाथ में रखना होगा जो उस आत्म त्याग भावना को प्रोत्साहित करें और भोग भावना को दबाए रखें नैतिक अंकुश के बिना शक्ति मानव के लिए हितकर नहीं होता है

(क) गद्यांश के पाठ का नाम और लेखक का नाम लिखिए

(ख) रेखांकित अंश की व्याख्या कीजिए

(ग) आत्मक भावना की प्रोत्साहित करने के लिए लेखक ने क्या सुझाव दिया है

(ii) जब एक बार मनुष्य अपना पैर कीचड़ में डाल देता है तब फिर यह नहीं देखता कि वह कहां और कैसी जगह पर रखता है धीरे-धीरे उनकी बातों में व्यस्त होते होते तुम्हारी ना कम हो जाएगी पीछे तो उनके चिड़ना मालूम होगी क्योंकि तुम यह सोचने लगोगे किस में चढ़ने की बात ही क्या है तुम्हारा विवेक कुंठित हो जाएगा और तुम्हें भले बुरे की पहचान नहीं रह जाएगी अंत में होते होते तुम भी बुराई के भक्त बन जाओगे अतः हृदय को उज्जवल और निष्कलंक रखने का सबसे अच्छा उपाय यही है कि बुरी संगत की छूट से

प्रश्न उपर्युक्त गद्यांश के पाठ का नाम और लेखक का नाम लिखिए

रेखांकित अंश की व्याख्या कीजिए

प्रस्तुत पद्यांश में कीचड़ में पैर डालने का आशय क्या है

प्रश्न 4 निम्नलिखित पद्यांश में से किसी एक की संदर्भ सहित व्याख्या कीजिए और उसका काव्य सौंदर्य स्पष्ट कीजिए

मॉडल पेपर यूपी बोर्ड हिन्दी कक्षा 10

चाह नहीं, मैं सुरबाला के
गहनों में गूँथा जाऊँ,
चाह नहीं प्रेमी-माला में बिंध
प्यारी को ललचाऊँ,
चाह नहीं सम्राटों के शव पर
हे हरि डाला जाऊँ,
चाह नहीं देवों के सिर पर
चढूँ भाग्य पर इठलाऊँ,
मुझे तोड़ लेना बनमाली,
उस पथ पर देना तुम फेंक |
मातृ-भूमि पर शीश- चढ़ाने,
जिस पथ पर जावें वीर अनेक |

(ख ) मानुष हौं तो वही रसखानि बसों वृज गोकुल गाँव के ग्वारन |
जो पसु हों तो कहा बसु मेरो चरों नित नन्द की धेनु मंझारन॥
पाहन हों तो वही गिरि को जो कर धर् यो कर छत्र पुरंदर धारन
जो खग हौं तो बसेरो करौं मिलि कालिंदी कूल कदंब की डारन ॥

प्रश्न 5 —-(क )निम्नलिखित लेखकों में से किसी एक लेखक का जीवन परिचय दीजिए तथा उसकी किसी एक रचना का नाम लिखिए

1- जयशंकर प्रसाद 2- रामचंद्र शुक्ल 3- डॉ राजेंद्र प्रसाद

(ख ) निम्नलिखित कवियों में से किसी एक का जीवन परिचय दीजिए तथा उसकी किसी एक रचना का नाम लिखिए

1- रसखान 2- महादेवी वर्मा 3- पंडित राम नरेश त्रिपाठी

प्रश्न 6— निम्नलिखित का संदर्भ सहित हिंदी में अनुवाद कीजिए

अस्माकं संस्कृतिः सदा गतिशीला वर्तते । मानवजीवनं संस्कर्तुम् एषा यथासमयं नवां नवां विचारधारा स्वीकरोति, नवां शक्ति च प्राप्नोति। अत्र दुराग्रहः नास्ति, यत् युक्तियुक्तं कल्याणकारि च तदत्र सहर्ष गृहीतं भवति। एतस्याः गतिशीलतायाः रहस्यं मानवजीवनस्य शाश्वतमूल्येषु निहितम्, तद् यथा सत्यस्य प्रतिष्ठा, सर्वभूतेषु समभावः विचारेषु औदार्यम्, आचारे दृढता चेति ।

प्रश्न 7 —(क) अपनी पाठ्य पुस्तक में कोई एक श्लोक लिखिए जो इस प्रश्न पत्र में ना आया हो

(ख ) निम्नलिखित में से किन्ही दो प्रश्नों के उत्तर संस्कृत में दीजिए

गुणः केन वर्धते ?

केन कारणेन पुरुराजः अलक्षेन्द्रस्य मैत्रीसन्धिम् अस्वीकारयत् ?

प्रश्न-8—निम्नलिखित पंक्तियों में प्रयुक्त रस को पहचान कर लिखिए तथा उस का स्थाई भाव भी लिखिए

“शोक विकल सब रोवहिं रानी।
रूप शील बल तेज बखानी।।
करहिं विलाप अनेक प्रकारा।
परहिं भूमि-तल बारहिं बारा ।।

अथवा

हास्य रस की परिभाषा एवं उदाहरण लिखिए |

(ख) उत्प्रेक्षा अलंकार की परिभाषा एवं उदाहरण लिखिए

(ग) सोरठा या रोला की परिभाषा उदाहरण सहित लिखिए

प्रश्न 9—निम्नलिखित में से किन्ही तीन के मेल से एक-एक शब्द बनाइए

अभि, पर, प्रति, वी, अप

(ख) निम्नलिखित में से किन्ही दो प्रत्यय का प्रयोग करके शब्द बनाइये

वट , आई , त्व

प्रश्न-10 –निम्नलिखित में से किन्हीं दो का समास विग्रह कीजिए तथा समास का नाम भी लिखिए |

चौमासा पंचवटी, दशानन , लंबोदर

प्रश्न-11 –निम्नलिखित में से किसी एक विषय पर निबंध लिखिए

अनुशासन , कोविद 19 महामारी , जीवन मे खेलों का महत्व , वन संपदा

प्रश्न-12 — अपने पठित खंडकाव्य के आधार पर निम्नलिखित प्रश्नों में से किसी एक प्रश्न का उत्तर दीजिए |

(क) अपने पठित खंडकाव्य के तृतीय खंड की कथा संक्षेप में लिखिए

(ख) अपने खंडकाव्य के मुख्य पात्र का चरित्र चित्रण कीजिए

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top