UP Board Class 10 Hindi Syllabus 2021-22

UP Board Class 10 Hindi Syllabus 2021-22

UP Board Class 10 Hindi Syllabus 2021-22

covid-19 महामारी को देखते हुए यूपीएमएसपी ने यूपी बोर्ड हाई स्कूल परीक्षा के लिए वर्ष 2021 – 22 के लिए पाठ्यक्रम कम 30% कर दिया है यूपी बोर्ड कक्षा 10 पाठ्यक्रम 2021- 2022 में 30% की कमी की गई है कम किया गया यूपी बोर्ड कक्षा 10 का सिलेबस यूपी बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट यानी upmsp.edu.in पर उपलब्ध है हिंदी अंग्रेजी गणित सामाजिक विज्ञान सहित सभी विषयों का यूपी बोर्ड का वर्ष 2021-22 का पाठ्यक्रम डाउनलोड करने के लिए इस वेबसाइट पर उपलब्ध है |

यूपी बोर्ड कक्षा 10 वीं के नए सिलेबस 2021-2022 में परीक्षा में आवश्यक सभी टॉपिक शामिल किए गए हैं | छात्रों को यूपी बोर्ड के नए सिलेबस की जानकारी होनी चाहिए इसे ध्यान में रखते हुए उचित अध्ययन योजना तैयार करनी चाहिए | यूपी बोर्ड सिलेबस 2022 कक्षा 10 पीडीएफ डाउनलोड करने के लिए आपको इस वेबसाइट पर नीचे डाउनलोड का बटन मिलेगा वहां से आप इसे डाउनलोड कर सकते हैं | यूपी बोर्ड कक्षा दसवीं की परीक्षा 2022 के लिए पढ़ने और दोहराने के लिए समय योजना बनाइए और इस पाठ्यक्रम को डाउनलोड करने के बाद इस योजना को बनाने में बहुत मदद मिलेगी | सभी विषयों के यूपी बोर्ड कक्षा 10 के पाठ्यक्रम 2022 जानने के लिए देखने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए |

कक्षा 10 का हिंदी 30% कम वाला पाठ्य क्रम download करने के लिए यहाँ पर क्लिक करे

हाईस्कूल (कक्षा-10) का वर्ष 2021-22

इसमें 70 अंकों की लिखित परीक्षा तथा 30 अंकों का विद्यालय स्तर पर प्रोजेक्ट कार्य होगा।

ALSO READ -   सीएम योगी आदित्यनाथ की बड़ी सौगात, रसोइयों व अनुदशकों के लिए 500 व 2000 रुपए तक बढ़ाया मानदेय, देखें पूरी खबर

पूर्णांक 100

कक्षा 10 का हिंदी 30% कम वाला पाठ्य क्रम download करने के लिए यहाँ पर क्लिक करे

1- (क) हिन्दी गद्य के विकास का संक्षिप्त परिचय (शुक्ल तथा शुक्लोत्तर युग)

(ख) हिन्दी पद्य का विकास का संक्षिप्त परिचय (रीतिकाल तथा आधुनिक काल) |

2- गद्य हेतु निर्धारित पाठ्य वस्तु से…………2+2+2=6

सन्दर्भ

रेखांकित अंश की व्याख्या

तथ्यपरक प्रश्न

3- काव्य हेतु निर्धारित पाठ्य वस्तु से

सन्दर्भ

व्याख्या

काव्य सौन्दर्य

4- संस्कृत गद्यांश अथवा पद्यांश का सन्दर्भ सहित हिन्दी में अनुवाद

5-निर्धारित पाठों के लेखकों एवं कवियों के जीवन परिचय एवं रचनायें 3+3=6

6- (1) संस्कृत के निर्धारित पाठों से कण्ठस्थ एक श्लोक 2
(जो प्रश्नपत्र में न आया हो)

(2) संस्कृत के निर्धारित पाठों पर आधारित दो अति लघुत्तरीय प्रश्नों का संस्कृत में उत्तर…..2
7-काव्य सौन्दर्य के तत्व

क-रस- (हास्य एवं करूण रस की परिभाषा, उदाहरण पहचान)……..2+2+2=6

ख-अलंकार-(अर्थालंकार) उपमा, रूपक, उत्प्रेक्षा,,,,,,,,,,

म-छन्द-सोरठा, रोला (लक्षण, उदाहरण, पहचान)………

कक्षा 10 का हिंदी 30% कम वाला पाठ्य क्रम download करने के लिए यहाँ पर क्लिक करे

8- हिन्दी व्याकरण-शब्द रचना के तत्व……3+2+2+2+2=11

(क) उपसर्ग-अ, अन अधि, अप, अनु, उप सह निर्, अभि. परि, सु

(ख) प्रत्यय-आई. त्य, ता. पन, वा हट, वट

(ग) समास-द्वन्द्र द्विगु

(घ) तत्सम शब्द |
(ङ) पर्यायवाची

संस्कृत एवं अनुवाद

क–सन्धि-यण, (परिभाषा, उदाहरण, पहचान)

ख-शब्द (सभी विभक्तियों के …….संज्ञा-फल, मति, मधु, नदी।

ग–धातु रूप सभी लकारों…………………………………………………..पठ,दृश हस

घ-हिन्दी सरल संस्कृत अनुवाद

10–निबन्ध रचना–वैज्ञानिक, सामाजिक, धार्मिक, सांस्कृतिक, आर्थिक समस्याओं पर आधारित एवं जनसंख्या स्वास्थ्य शिक्षा एवं यातायात नियम पर 11

खण्ड काव्य-सक्षिप्त कथावस्तु घटनायें, चरित्र-चित्रण

आन्तरिक मूल्यांकन–(प्रत्येक माह सप्ताह में)

प्रथम अंकवाचन (भाषण, आदि)

ALSO READ -   UP BOARD SOLUTION FOR CLASS 11 POLITICAL SCIENCE CHAPTER 5 अधिकार

द्वितीय-10 अंक-व्याकरण सम्बन्धी

नाटक, कहानी, कविता, अपठित आदि
मित्रता ……………………

ममता …………………..

भारतीय संस्कृति …………………..

जयशंकर प्रसाद

राजेन्द्र प्रसाद …………………..

अजन्ता …………………..

भगवत शरण उपाध्याय …………………..

काव्य हेतु———-

पद ………………….. सूरदास

धनुष भंग, वन पथ पर ………………….. तुलसीदास

सवैये कवित्त ………………….. रसखान

भक्ति नीति ………………….. बिहारी लाल

रामनरेश त्रिपाठी

मैथिलीपरण गुप्त

महादेवी वर्मा

सुमित्रानन्दन पंत

माखन लाल चतुर्वेदी

सुभद्रा कुमारी चौहान

अशोक बाजपेयी

प्याम नारायण पाण्डेय

राम चन्द्र शुक्ल

स्वदेश प्रेम

भारतमाता का मंदिर यह

हिमालय से

चींटी,

पुष्प की अभिलाषा

झासी की रानी की समाधि पर

भाषा एकमात्र अनन्त है

हल्दीघाटी

घ्याम नारायण पाण्डेय

हल्दीघाटी

संस्कृत हेतु———

वाराणसी, देशभक्तः चन्द्रशेखर, छांदोग्योपनिषद षष्ठोध्यायः भारतीयाः संस्कृति वीर वीरेण पूज्यते, आरूणि श्वेतकेतु संवादः जीवन-सूत्राणि, प्रबुद्धोग्रामीणः।

खण्ड काव्य- (जिलेवार)
खण्ड काव्य के लिये निर्धारित खण्ड काव्य

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: